CGPC History-सेन्ट्रल गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी जमशेदपुर का गौरवमयी इतिहास।know more about the history of CGPC.

1 min read
Spread the love

CGPC History

Daily Dose News

सेन्ट्रल गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी जमशेदपुर ने पिछले 80 साल के अपने गौरवमयी इतिहास में बहुत कुछ उतार चढ़ाव देखा। इस संस्था की सेवा करने वाले मुख्य सेवादारों ( प्रधान ) नें सेन्ट्रल गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी प्रबंधन सम्हालते हुए सिख समाज के आलावा अन्य समाज के लिए भी बिना किसी भेदभाव के कई महत्वपूर्ण कार्य किए। और आजतक करते हुए आ रहे हैं। जैसे सिख गुरुओं ने सिखों को शिक्षा दी। “ना को बैरी, नहीं बेगाना सगल संग हमको बन आयी” सीजीपीसी द्वारा यदि कोई सामाजिक कार्य किया जाता है तो वो सभी धर्मों के लिए बिना किसी भेदभाव के किया जाता है।

सेन्ट्रल गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी सिर्फ जमशेदपुर ही नहीं बल्कि पूरे कोल्हान क्षेत्र के जितने भी गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटियां हैं उन सभी कमेटियों का प्रतिनिधित्व करता है।
सो, सेन्ट्रल गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के स्थापना और संस्थान के बारे में सभी सिख संगत को खासकर सीजीपीसी के क्षेत्र में रहने वाले सिखों को इसकी जानकारी होनी चाहिए।और इसका हमारी टीम पूरा प्रयास करेगी।

CGPC History

CGPC के इतिहास को अपने पाठकों के साथ आगे बढ़ाते हुए आपको जानकारी देना चाहेंगे कि सरदार राजेन्द्र सिंह दत्त जी के बाद नवंबर 1944 से नवंबर 1945 तक सरदार भगवान सिंह सोहल जी को सीजीपीसी की सेवा मिली। अपने कार्यकाल के दौरान उन्होंने भी सिख समाज के लिए बहुत से हितकारी कार्य किए।

Read This Also

नवंबर 1945 से नवंबर 1946 तक सरदार जीवन सिंह साक्ची को सेन्ट्रल गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की बागडोर सम्भालने का मौका मिला। उसके बाद नवंबर 1946 से दिसंबर 1948 तक ज्ञानी माधव सिंह जी तार कंपनी के मालिक सीजीपीसी के अगले प्रधान बनाये गए। और अपने 2 साल के कार्यकाल में जमशेदपुर के सिख समाज को नयी उचाईयों पर लेकर गये। और कई धार्मिक कार्य किए। उनके उपरांत दिसंबर 1948 से दिसंबर 1949 तक ज्ञानी माधव सिंह जी को सेवा मिली। ज्ञानी माधव सिंह जी ने अपने समय में जमशेदपुर की सभी गुरुद्वारा कमेटियों और सिख संगत को एकजुट होकर रहने और शहर में धार्मिक उपराले करने के लिए प्रेरित किया।

This Information is according to the information given by former CGPC chief Sardar Shailender Singh

CGPC History

बाकी की जानकारी अगले एपिसोड में दिया जाएगा जी। धन्यवाद

इस लेख में यदि कोई कमी या गलत सुचना होने पर अपने सुझाव मोबाइल नंबर: 8229047688 या www.saluja.gurdeepsingh@gmail.com पर ईमेल करें।

ये जानकारी आप सोनारी गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी और टर्बनेटर द पेडलर्स के सौजन्य से प्राप्त कर रहे हैं।

This Information Brought To You By Sonari Gurudwara Parbandhak Committee JSR and Turbanators The Pedalers

Read This Also

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *