delhi-दिल्ली में सिखों के धार्मिक सिंबल वाले अंडरगारमेंट बेचने पर मचा बवाल,know more about it.

1 min read
Spread the love

delhi

दिल्ली में सिखों के धार्मिक सिंबल वाले अंडरगारमेंट बेचने पर मचा बवाल, कार्रवाई की मांग

सिख समुदाय की वकील जसलीन ने बताया कि गांधी नगर बाजार में सिखों के पवित्र सिंबल वाली महिलाओं की पैंटी बेची जा रही है. व्यापारी से उन अंडरगारमेंट्स को हटाने की मांग भी की गई थी.

 देश की राजधानी दिल्ली से सिखों (Sikh) की धार्मिक भावना को ठेस पहुंचाने का मामला सामने आया है. दिल्ली स्थित गांधी नगर (Gandhi Nagar) में कपड़ों के होलसेल बाजार में महिलाओं के अंतः वस्त्र बेचने वाले एक व्यापारी पर आरोप लगा है. आरोप है कि व्यापारी की ओर से सिखों से जुड़े एक महत्वपूर्ण और पवित्र सिंबल (खंदा साहिब) प्रिंट वाली पैंटी बेची जा रही है. इसकी जानकारी मिलते ही सिख समुदाय में रोष फैल गया और वे इसका विरोध करने लगे. इस मामले में शिकायत के बाद अब पुलिस ने व्यापारी के खिलाफ कार्रवाई की प्रक्रिया शुरू कर दी है.

दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के पूर्व प्रधान और जागो पार्टी के अध्यक्ष सरदार मंजीत सिंह जीके नेतृत्व में गढ़ी गुरुद्वारा साहिब के उप प्रधान हरविंदर सिंह सिड़ी समेत दर्जन भर अन्य सिख समुदाय के लोगों ने अमर कॉलोनी थाने में सिख समुदाय के महत्वपूर्ण और पवित्र सिंबल (खंदा साहिब) प्रिंट वाली अंडरगारमेंट्स को बनाने (फैक्ट्री) और बाजारों में बेचने वालों (दुकानदारों) के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई. उन्होंने दिल्ली पुलिस से अपील की है कि जल्द से जल्द फैक्ट्री मालिक और सभी दुकानदारों के खिलाफ सख्त से सख्त एक्शन ली जाए. इस मामले को लेकर गढ़ी, ईस्ट ऑफ कैलाश, अमर कॉलोनी, लाजपत नगर और महरौली समेत अन्य इलाके के लोग काफी आक्रोशित हैं और वे सभी उनलोगों के खिलाफ सख्त करवाई चाहते हैं.

[content source by: abp live]

‘सिखों के सम्मान और स्वाभिमान की बात’

सिख समुदाय के लोगों का कहना है ये कोई राजनीति मसला नही है, ये सिखों के सम्मान और स्वाभिमान की बात है. इस मामले में शिकायतकर्ता की तरफ से वकील जसलीन ने बताया कि खुलेआम गांधी नगर बाजार में सिखों के पवित्र सिंबल वाली महिलाओं की पैंटी बेची जा रही है. इस बारे में व्यापारी से बात कर उन अंडरगारमेंट्स को हटाने की मांग भी की गई, लेकिन उसके बाद भी व्यापारी उन अंडरगारमेंट्स को बेच रहे हैं. इसके बाद पुलिस में शिकायत दी गई. उनका कहना है कि व्यापारी के खिलाफ 295A (नॉन बेलेबल) के तहत कार्रवाई के साथ यह पता लगाया जाए कि ये अंडरगारमेंट्स कहां बनाये जा रहे हैं और उसपर भी तत्काल रोक लगाई जाए. इस बारे में दिल्ली पुलिस से कार्रवाई का आश्वासन उन्हें दिया गया है और उम्मीद है कि पुलिस व्यापारी के खिलाफ कार्रवाई करते हुए उसे गिरफ्तार करेगी.

‘व्यापारी को थी ये जानकारी’

वहीं इस मामले के शिकायतकर्ता ने बताया कि वे 25 नवंबर को जब गांधी नगर मार्केट से गुजर रहे थे तो उनकी नजर क्लासिक ट्रेडिंग कंपनी नाम से मार्केट की एक दुकान ओर पड़ी, जहां महिलाओं के अंडरगारमेंट्स बेचे जाते हैं. उस शॉप की डिस्प्ले में सिखों के पवित्र और धार्मिक सिंबल (खंदा साहिब) प्रिंट वाली महिलाओं की पैंटी लगी हुई थी. उन्होंने कहा कि वे व्यापारी के पास गए और उनसे उस सिंबल के बारे में बात की तो व्यापारी ने कहा कि उन्हें पता है कि ये सिखों से संबंधित है और उसने गुरुद्वारे में इस सिंबल को देखा है.

इसके बाद शिकायतकर्ता ने व्यापारी से उस तरह के अंडरगारमेंट्स को डिस्पले से हटाने और न बेचने का आग्रह किया. उन्होंने कहा कि अगर सिख समुदाय को इसकी जानकारी हो गई तो फिर बात बढ़ सकती है. इसके बावजूद व्यापारी नहीं माना और जब अगले दिन शिकायतकर्ता वापस गांधी नगर मार्केट गया तो पाया कि व्यापारी उस अंडरगारमेंट्स की अभी भी बिक्री कर रहा है. ऐसे में उन्होंने वकील के माध्यम से दिल्ली पुलिस में इसकी शिकायत दी. यह मामला एक समुदाय विशेष की धार्मिक भावना से जुड़ा हुआ है, इसलिए दिल्ली पुलिस ने भी इसमें उनका साथ देने और व्यापारी के खिलाफ कार्रवाई का आश्वासन दिया है. उनकी मांग है कि तुरंत ही इस तरह की पैंटी बेचने और बनाने पर रोक लगाई जाए.

image credit abp live

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *