amritsar-SGPC ने स्वर्ण मंदिर में योग करके और इसकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर पोस्ट करने वाली महिला के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई,know more about it.

1 min read
Spread the love

amritsar

अमृतसर. शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (एसजीपीसी) ने स्वर्ण मंदिर में योग करके और इसकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर पोस्ट करने वाली महिला के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है. एसजीपीसी ने ‘धार्मिक भावनाओं को आहत’ करने का आरोप लगाते हुए फैशल डिजाइनर और ‘लाइफस्टाइल इंफ्लुएंसर’ अर्चना मकवाना के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है. हालांकि मकवाना ने इस मामले में माफी मांगते हुए कहा कि उनका इरादा किसी की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का नहीं था. शुक्रवार को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर स्वर्ण मंदिर पहुंचीं मकवाना ने परिक्रमा पथ पर योग किया था.

गुरुद्वारों की सर्वोच्च संस्था शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (एसजीपीसी) ने कर्तव्य निर्वहन ठीक से नहीं करने का आरोप लगाते हुए अपने तीन कर्मचारियों को निलंबित कर दिया. एसजीपीसी प्रमुख हरजिंदर सिंह धामी ने कहा कि मकवाना के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए पुलिस आयुक्त को शिकायत भेजी गई है. उन्होंने एक बयान में कहा कि ‘किसी को भी स्वर्ण मंदिर में सिख आचरण के खिलाफ हरकत करने की इजाजत नहीं दी जा सकती. लेकिन कुछ लोग जानबूझकर इस पवित्र स्थान की पवित्रता और ऐतिहासिक महत्व को नजरअंदाज करके आपत्तिजनक हरकतें करते हैं.’

धामी ने कहा कि ‘इस हरकत से सिखों की भावनाओं और मर्यादा को ठेस पहुंची है, इसलिए पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई है.’ बाद में अपने ‘इंस्टाग्राम’ हैंडल पर एक पोस्ट में मकवाना ने माफी मांगी और कहा कि ‘मैंने किसी की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने के इरादे से कुछ पोस्ट नहीं किया था. मुझे इस बात की जानकारी नहीं थी कि गुरुद्वारा साहिब परिसर में योग का अभ्यास करना कुछ लोगों के लिए अपमानजनक हो सकता है. मेरा किसी को आहत करने का कोई इरादा नहीं था.’ उन्होंने कहा कि ‘मैं ईमानदारी पूर्वक माफी मांगती हूं तथा भविष्य में और अधिक सावधानी बरतने का वादा करती हूं। कृपया मेरी माफी स्वीकार करें.’

content source by: social media

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *